बाल गंगाधर तिलक के अनमोल विचार- Bal Gangadhar Tilak Quotes in Hindi

 

1.प्रगति स्वतंत्रता में निहित है। स्वशासन के बिना न तो औद्योगिक प्रगति संभव है, न ही शैक्षिक योजना राष्ट्र के लिए उपयोगी होगी।

2.यदि भगवान छुआछूत को मानता है तो मैं उसे भगवान नहीं कहूँगा।





3.भूविज्ञानी पृथ्वी के इतिहास को उस बिंदु पर ले जाता है जहां पुरातत्वविद् इसे छोड़ देता है, और इसे आगे प्राचीन पुरातनता में ले जाता है।

4.जीवन एक ताश के खेल के बारे में है। सही कार्ड चुनना हमारे हाथ में नहीं है। लेकिन हाथ में कार्ड लेकर अच्छा खेलना हमारी सफलता को निर्धारित करता है।

5.स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है, और मैं इसे लेकर रहूँगा !

6.ये सच है कि बारिश की कमी के कारण अकाल पड़ता है लेकिन ये भी सच है कि भारत के लोगों में इस बुराई से लड़ने की शक्ति नहीं है।

7.भारत की गरीबी पूरी तरह से वर्तमान शासन की वजह से है।

8.रत का तब तक खून बहाया जा रहा है जब तक की बस कंकाल ना शेष रह जाये

9सफल होने के लिए, आपको परिवार और दोस्तों की आवश्यकता होती है लेकिन, बहुत सफल होने के लिए, आपको दुश्मनों और प्रतियोगियों की आवश्यकता होती है।

Post a Comment

0 Comments